Homeराज्य चुनेंउत्तराखंडदेहरादून को स्वच्छ बनाने वाले स्वच्छता चैंपियन को नगर निगम ने सम्मान...

देहरादून को स्वच्छ बनाने वाले स्वच्छता चैंपियन को नगर निगम ने सम्मान से नवाजा, पढ़िये पूरी खबर

 

देहरादून : देहरादून नगर निगम शहर को स्वच्छ बनाने के लिए हमेशा से कोशिश कर रहा है ताकि राजधानी की रैंक अव्वल आये। वहीं स्वच्छ सर्वेक्षण-2023 के मापदंडों के तहत आयोजित की जाने वाली विभिन्न स्वच्छता गतिविधियों, प्रतियोगिताओं,जन जागरूकता कार्यक्रम के संचालन हेतु आज नगर निगम बोर्ड बैठक हॉल मे सभी 50 स्वच्छता चैंपियंस को आयोजित कार्यक्रम में सम्मानित किया गया।
स्वच्छ सर्वेक्षण की विभिन्न गतिविधियों के अन्तर्गत नगर निगम द्वारा 6 श्रेणियों में स्वच्छता चैंपियंस से आवेदन के लिए आग्रह किया गया था । समस्त श्रेणियों में भाग लेने वाले प्रतिभागियों के आवेदनों पर निगम द्वारा गठित समिति द्वारा विचार विमर्श करके रैंकिंग के निर्धारित मापदंडों के अनुसार परिणाम घोषित किया गया है। श्रेणियों को संस्थान , व्यापारी वर्ग , वेलफेयर एसोसिएशन , सरकारी परिसर एवं सामान्य नागरिक में बाटा गया है।

नगर आयुक्त मनुज गोयल नेजानकारी देते हुए कहा कि ‘सम्मान भले ही 50 स्वच्छता चैंपियंस का किया जा रहा है लेकिन देहरादून शहर का समस्त नागरिक स्वच्छता चैंपियन है। सभी युवा वर्ग से अपील की कि यदि वह अपने अपने स्तर पर अपने घरों में खाद का उत्पादन करें तो एक विकट समस्या का हल हो जाएगा।’

वहीं मेयर सुनील उनियाल गामा ने नगर की स्वच्छता के लिए सभी स्वच्छता चैंपियंस द्वारा किये गये प्रयासों / जन जागरूकता कार्यक्रमों से अवगत होते हुए वर्तमान में भी अपनी सेवाएं निरंतर जारी रखने की अपील की गई। सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि ‘स्वच्छता की चाबी किसी एक व्यक्ति विशेष को नहीं बल्कि पूरे स्कूल पूरे मोहल्ले पूरे वार्ड एवं पूरे शहर को मिली है। इंदौर से सीमित संसाधन होने के उपरांत भी हम सभी देहरादून वासी नए मुकाम हासिल कर रहे हैं और हासिल करने का हौसला रखते हैं।’

सभी प्रतिभागियों को स्वच्छता सेवा सम्मान पत्र, कचरे से बनी उपयोगी वस्तुएं एवं हररावाला स्वच्छता केंद्र में बनाई गई जैविक खाद देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान 200 से अधिक नागरिकों ने भाग लिया। आज के कार्यक्रम में देवेंद्र पाल सिंह, डॉक्टर संजय, डॉक्टर राकेश डंगवाल , नवीन कुमार सडाना,आदित्य , मिताली, सौरभ आदि मौजूद रहे।

इन्हें भी पढ़ें-

औचक निरीक्षण कर संस्कृति निदेशालय पहुंचे महाराज, लंबित पड़े मामलों पर जताई नाराजगी

Must Read